HAPPY CHRISTMAS DAY 2019 MERRY CHRISTMAS WISHES

25 दिसंबर की रात्रि 12 बजे प्रभु ईशु का जन्म दिन सभी को मुबारक हो!सांता क्लाज सभी को ढेर सारी आइस क्रीम और अनेक गिफ्ट प्रदान करें.
images (4).jpeg
25 दिसंबर क्रिसमस डे पूरी दुनिया में बहुत धूम-धाम से मनाया जाता है इस दिन सभी सरकारी ऑफिस और स्कूल कॉलेज बंद रहते है! महान प्रभु ईशु की कृपा सभी पर बरसे सभी प्रभु ईशु के दिखाए मार्ग पर चले तो एक सकारात्मक शक्ति पूरी दुनिया में जागृत हो सकती है और सभी का जीवन सफल और सुखमय हो सकता है!

यह दिन बहुत शुभ माना जाता है और यह वर्ष का आखिरी और बड़ा त्यौहार भी होता है इस दिन विशेष रूप से लोग चर्च में जाकर प्रभु ईशु से सबकी भलाई की कामना करते है और पादरी से आशीर्वाद भी प्राप्त करते है
सन-7-2 ई.पु.यहूदिया रोमन साम्राज्य में जीसस क्राइस्ट यानि ईशा मसीह की महान और पवित्र आत्मा ने जन्म लिया और दुनिया को प्रेम के मार्ग पर चलने की प्रेरणा दी उन्होंने अपने जीवन काल में बहुत से चमत्कारिक कार्य किये जैसे किसी व्यक्ति का कोढ़ ठीक कर देना लाइलाज बीमारियों से बिना किसी दवाई के पूरी तरह से मुक्ति दिला देना जलती भयंकर अग्नि को एक पल में ही बिना जल के बुझा देना मृत व्यक्तिओ को पुनः जीवित कर देना और भयावह समुद्री तुफानो को आदेश देकर तुरंत उन्हें शांत कर देना
jesus-miracle-calms-storm-sea-90500188
(जिसके साथ परम पिता ईश्वर हो उसके खिलाफ कौन हो सकता है)
प्रभु इशू कथन.!

प्रभु ईशु का मानना था की सभी एक ही ईस्वर की संतान है इसलिए सभी को एक दूसरे से प्रेम करना चाहिए और अपनी रोटी मिल बाँट कर खानी चाहिये!

(अपने ह्रदय की पवित्रता और दया की भावना से जितना अपने चेहरे को सुन्दर बनाया जा सकता है उतना किसी और वस्तु से नही) प्रभु ईशु कथन.!
christmas-nativity-scene-baby-jesus-mary-joseph-barn-41328633
प्रभु ईशु के ह्रदय में सृष्टि के प्रत्येक जीवो से भी अत्यधिक गहरा प्रेम था और वो किसी पशु पंछी को कभी कस्ट में नहीं देख पाते थे! वह घायल और बीमार पशु पंछियों की सेवा उसी प्रकार करते थे जैसे एक इंसान किसी बीमार व्यक्ति की सेवा करता है

(जिस प्रकार मेरे ईश्वर पिता ने मुझसे प्रेम किया है उसी प्रकार मैं सभी मुष्यो और जीव जन्तुओं से प्रेम करता हूँ)
प्रभु इशू कथन.!

images (2)
ईशा मसीह के माता का नाम मरियम और पिता का नाम युसफ था वह एक बढ़ई थे और लकड़ी का काम करते थे प्रभु ईशु अपने पिता के काम में हाथ बांटते थे और साथ ही लोगो को मानवता का उपदेश देते रहते थे तीस वर्ष की अवस्था में उन्हें ज्ञान प्राप्त हुआ उन्होंने स्वय को ईश्वर का पुत्र कहा और उस समय उन्होंने यहूदी समाज में व्याप्त अनेक कुरितियों का विरोध करना शुरू कर दिया था!

(तुम कभी चोरी मत करना किसी मनुष्य, किसी जीव की हत्या मत करना लालच और ईर्ष्या मत करना जो तुम्हारा है वह तुम्हें दिया जायेगा) प्रभु ईशु कथन.!
images (6)

ईशा मसीह ने जो उपदेश दिया था उनके अनुनाइयो ने उसे संग्रहित करके उसे बाइबिल नाम दिया आज यह उनका पवित्र ग्रन्थ है ईशा मसीह के उपदेश और उनके चमत्कारिक कार्यो की वजह से उस समय के यहूदी धर्म गुरुओ को उनसे ईर्ष्या और कटुता होने लगी थी जिसके कारण अनेक पाखंडी धर्मगुरुओ ने रोमन गवर्नर पिलातुस से कहकर प्रभु ईशा मसीह को सूली पर चढ़ा कर मार देने का हुक्म जारी करा दिया !प्रभु ईशु मृत्यु के तीन दिन बाद पुनः जीवित हो उठे थे क्योकि वह ईश्वर पुत्र थे!
jesus-christ-cross-sunset-clouds-as-background-44608949
(अपने दुश्मनो और विरोधियो से भी प्रेम करो जैसे सूर्य की रोशनी अच्छे और बुरे इंसानो के लिए एक समान होती है जैसे हवा और जल सभी के लिए एक बराबर गुण उत्पन्न करती है) प्रभु ईशु कथन.!

आज दैहिक रूप से ईशा मसीह हमारे बीच नहीं है किन्तु वो अपनी अमर वाणी के साथ इस संसार में सदैव अमर रहेंगे और मानव समाज का कल्याण करते रहेंगे!
आओ , इस हैप्पी क्रिसमस डे पर हम सभी उनके जन्मोत्सव को धूम धाम से मनाये और एक दूसरे को प्रसन्नता और प्रेम बांटे!

दिशाहीन होगा जब जब मानव तब ईशु अवतार आएगा
सारे कस्ट स्वयं उठाकर प्रेम दया ज्ञान का अमृत सब पर वो बरसायेगा !!
images (3).jpeg
25 दिसम्बर 2019 सबको प्रभु ईशु जन्म दिवस मुबारक हो

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s