शेयर बाजार! (Share Market) जानकारी !

दोस्तों पैसे कमाने के बहुत से लीगल तरीके हैं! ऐसे ही एक लीगल तरीका है शेयर बाजार से पैसे कमाने का!शेयर बाजार एक ग्लोबल मार्किट हैं,जहा हर दिन सप्ताह के लगभग पांच दिन मंडे से फ्राइडे तक तमाम कम्पनियो के शेयर ख़रीदे और बेचे जाते है ! शेयर खरीदने वाले को बायर तथा शेयर बेचने वाले को वाले सेलर कहा जाता है! एक व्यक्ति दोनों काम कर सकता है!
भारतीय शेयर बाजार सुबह के नौ बजकर पंद्रह मिनट पर खुलता है तथा शाम तीन बजकर पंद्रह मिनट पर बंद होता है!
भारत में नेशनल स्टॉक एक्सचेंज NSE और बम्बई स्टॉक एक्सचेंज BSE यही दो प्रमुख स्टॉक ऐक्सचेंज है!इन दोनों स्टॉक एक्सचेंज में बड़ी बड़ी कम्पनिया लिस्टेड होती है जो लोगो को कम्पनी के शेयर प्रदान करती है,इससे उन्हें अपना कारोबार बड़ा करने के लिए पैसे की आपूर्ति होती है!

शेयर खरीदने और बेचने के लिए एक डीमेट अकाउंट की जरुरत होती है ! डीमेट अकाउंट किसी सेविंग अकाउंट की तरह सेफ और सुरछित होता है!शेयर खरीदने और बेचने के लिए इसमें पैसे रखने होते हैं!

भारत में कुछ बढ़िया सर्विसेस वाले ब्रोकर मौजूद है जो अपने यहाँ डीमैट अकाउंट खोलने की सुविधा प्रदान करते हैं!
0 जरोधा ब्रोकर हाउस
0 एंजेल ब्रोकर हाउस
0 मोतीलाल ओसवाल ब्रोकर हाउस
0 निर्मल बंग ब्रोकर हाउस
0 शेरखान ब्रोकर हाउस
ये सभी ब्रोकर NCE,BSE तथा SEBI से रजिस्टड और लिस्टेड होते है! ये शेयर खरीदने और बेचने पर ब्रोकरेज चार्ज लेते है!सभी ब्रोकेज हाउसेस का ब्रोकरेज चार्ज भिन्न,होता है!
जो लोग नौकरी पेशा वाले है वो कमोडिटी सेगमेंट में शाम के बाद फ्री समय में शेयर मार्किट में काम कर सकते है !

कमोडिटी बाजार रात्रि के ग्यारह बज कर तीस मिनट तक ओपन रहता है! दाल,सोया, सिल्वर,गोल्ड (चाँदी सोना) कच्चा तेल (crud oile) आदि सारे शेयर कमोडिटी बाजार में आते हैं!बहुत सारे लोग सिर्फ कमोडिटी के ही शेयर खरीदते बेचते है!

शेयर खरीदने बेचने के लिए कई SAGMENT में काम होते है
जैसे! इक्विटी कैश और फ्युचर में काम करना आदि! शेयर ख़रीदने और बेचने को ट्रेंडिंग भी कहा जाता है! जो शेयर खरीदता और बेचता है उसे ट्रेडर के नाम से जाना जाता है !पूरी दुनिया में हर रोज लाखो लोग शेयर खरीदने और बेचने का काम करते हैं! ज्यादातर लोग इंट्राडे ट्रेडिंग करते है !

(INTRADAY TREDING) इंट्राडे ट्रेडिंग उसे कहते है जो शेयर आज ख़रीदा जाये और आज ही शाम सवा तीन बजे तक उसे बेच दिया जाये !
(HOLDING TREDING) ये तरीका किसी शेयर को लम्बे समय तक खरीद कर रखने का है जैसे दो दिन दस दिन साल दस साल जितने समय तक चाहे शेयर को होल्ड किया जा सकता है फिर उसे बेचा जा सकता है!

इंट्राडे ट्रेडिंग रिस्की होता है !बिना किसी एक्सपर्ट से सीखे इस ट्रेडिंग से बचे! होल्डिंग ट्रेडिंग सेफ होता है और ज्यादा पैसा होल्डिंग ट्रेडिंग से ही बनता है! इंट्राडे ट्रेडिंग में रोज खरीदने बेचने का काम होता है इसमें समय कम होता है! इसलिए ट्रेडर को शेयर का भाव यदि नहीं बढ़ा तो उसे शेयर के गिरे रेट पर ही बेचना होता है! जिससे उसका नुकसान हो जाता है!
ट्रेडिंग का तरीका चाहे इंट्राडे हो या होल्डिंग हो बिना प्रॉपर अच्छी तरह सीखे इसे न करे!!

सीखने के लिए किसी ब्रोकर हाउस को ऑनलाइन सर्च करे और उनके दिए फोन नम्बर पर उनसे संपर्क कर उनके ब्रांच जाकर इस काम के बारे में विस्तृत जानकारी हासिल करे ! सभी ब्रोकर अपने ब्रांच स्टॉफ में ट्रेनर रखते है! जिनसे ट्रेनिंग लेकर उनके गाइडेंस में काम कर सकते है!और पैसे कमा सकते है!

इस विषय में और कोई जानकारी के लिए कमेंट करे !!

एक उत्तर दें

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  बदले )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  बदले )

Connecting to %s