ईक्कीसवीं सदी की महामारी तनाव हज़ारो तरह के जानिए क्यों.और..क्या है? इसका जड़ से समूल ईलाज, शारीरिक घातक बीमारियों का सटीक इलाज बिना पैसा खर्च मन और शरीर का काया कल्प इस से भी आगे चेंज करो अपनी Destini अपने जीवन की घटनाएँ अपनी जिंदगी को अपने तरीके से सेट करे! गारंटी के साथ ………to contineu red biggest matter this life.

एक इंसान जब जन्म लेता है तो ..मृत्यु के समय तक उसे धन,पैसो की जरुरत पड़ती है हमारा सामाजिक ढांचा ही कुछ ऐसा है! पृथ्वी पर आने के बाद सबको संघर्ष करना ही पड़ता है

इसी संघर्ष के दौरान ही मानसिक , शारीरिक व्याधियाँ इंसान के भीतर उत्पन्न होने लगती है यदि इंसान सफल भी हो जाये तो वो बहुत कुछ खो चूका होता है …क्या कोई ऐसा उपाय रास्ता तरीका है जिससे इंसान बहुत जल्दी सफल हो जाये ..या हमेशा हर परिस्तिथि में भी तन ..मन से स्वस्थ और धनवान बना रहे ..उसको तनिक भी असंतुष्टि बाकि न रहे ..जी बिलकुल ऐसा रास्ता है ..बहुत ही आसान रास्ता ..इस रास्ते पे जो चला वो हज़ार प्रतिशत हर तरह से सुखी धनवान स्वस्थ और दीर्घायु जीवन को प्राप्त पाया किस्मतें बदल जाती है …

ऐसे उदाहरण दुनिया भर में विख्यात है लोगो की सफलता के ..रेगिस्तान में भी फूल खिल उठते है ..लगड़ा भी चलता है ..गुगा बोलता है ..झोपडी महल बन जाती है ..ये लेखक का स्वयं का भी निजी अनुभव है ..बस एक काम ..एक घंटा काम प्रतिदिन कभी भी कही भी …

आखिर ये सटीक राज क्या है ..एक दम सटीक उपाय एक ..कर्म ..हजार चमत्कारी परिणाम ध्यान .मेडीटीशन (maditition)..कैसे ..अगली कड़ी ध्यान-bhag -1…में जानिए वो राज जो अभी तक अपने ठीक से नहीं जाना …

एक उत्तर दें

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  बदले )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  बदले )

Connecting to %s